'जय श्री राम' का नारा लगाने पर सांड की तरह भड़क जाती हैं ममता बनर्जी: अनिल विज

1 month ago 11
Anil Vij

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुये कहा कि उनके लिये 'जय श्री राम' का नारा 'सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान' है और यही कारण है कि कोलकाता के समारोह में उन्होंने अपना भाषण रोक दिया.

चंडीगढ़: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुये कहा कि उनके लिये 'जय श्री राम' का नारा 'सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान' है और यही कारण है कि कोलकाता के समारोह में उन्होंने अपना भाषण रोक दिया. नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में बोलने से ममता ने इंकार कर दिया क्योंकि उस समारोह में 'जय श्री राम' के नारे लगे थे.

अनिल विज ने साधा निशाना

विज ने ट्वीट किया, "ममता बनर्जी (Mamta Banarjee) के लिये 'जय श्री राम' का नारा सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान है और यही कारण है कि उन्होंने विक्टोरिया मेमोरियल में आज अपना भाषण रोक दिया." नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती पर विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित समारोह में ममता ने भाषण देने से मना कर दिया जब वहां मौजूद भीड़ के एक वर्ग ने जय श्री राम का नारा लगाया. 

संतान पाने के लिए अंधे व्यक्ति ने की 11 शादियां, फिर संपत्ति के फेर में भाभी ने करा दी हत्या

ममता ने कहा-अपमान अस्वीकार्य

ममता ने कहा कि इस तरह का 'अपमान' अस्वीकार्य है. उन्होंने कहा, "यह सरकार का कार्यक्रम है न कि राजनीतिक कार्यक्रम. गरिमा होनी चाहिए. यह ठीक नहीं है कि किसी को बुला कर उसका अपमान किया जाना जाए. मैं नहीं बोलूंगी. जय बांग्ला. जय हिंद." दरअसल ममता बनर्जी कार्यक्रम में अपना संबोधन शुरू करने जा रहीं थी. तभी कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने जय श्री राम के नारे लगाने शुरू कर दिए. इसके बाद मंच से लोगों से शांत रहने की अपील की गई. इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, मुझे लगता है कि सरकारी कार्यक्रम की एक गरिमा होनी चाहिए. यह सरकारी कार्यक्रम है, जनता का कार्यक्रम है. कोई राजनैतिक कार्यक्रम नहीं है. उन्होंने कहा कि वह पीएम मोदी और संस्कृति मंत्रालय की आभारी हैं कि उन्होंने यह कार्यक्रम कोलकाता में रखा लेकिन किसी को कार्यक्रम में बुलाकर उसे बेइज्जत करना शोभा नहीं देता. इसके बाद ममता बनर्जी ने कहा कि वह कुछ नहीं कहेंगी और जय हिंद और जय बांग्ला बोलकर अपना संबोधन खत्म कर दिया. 

Read Entire Article