विवादों में घिरे रहे जस्टिस CS Karnan दोबारा अरेस्ट, इन संगीन मामलों में केस दर्ज

1 month ago 24

Zee News

Hindi Newsदेश
CS Karnan

मद्रास और कलकत्ता हाई कोर्ट (Kolkata High Court) के पूर्व न्यायाधीश रहे सी एस कर्णन (CS Karnan) को महिलाओं और न्यायाधीशों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. सी एस कर्णन के खिलाफ एक शिकायत आई थी.

चेन्नई: मद्रास और कलकत्ता हाई कोर्ट (Kolkata High Court) के पूर्व न्यायाधीश रहे सी एस कर्णन (CS Karnan) को महिलाओं और न्यायाधीशों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. सी एस कर्णन के खिलाफ एक शिकायत आई थी. जिसके बाद पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर बुधवार को यह गिरफ्तारी की. 

न्यायाधीशों और उनकी पत्नियों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की

बता दें कि हाल में सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप सामने आया था, जिसमें सी एस कर्णन (CS Karnan) न्यायाधीशों और उनकी पत्नियों के खिलाफ कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते दिखे ते. इसके बाद एक महिला वकील ने कर्णन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. जिसके बाद सेंट्रल क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मियों ने कर्णन के खिलाफ केस दर्ज कर उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया. 

IPC की कई धाराओं में कर्णन पर केस दर्ज किया गया

पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक सी एस कर्णन (CS Karnan) के खिलाफ महिलाओं की गरिमा भंग करने, सेवारत न्यायिक लोकसेवकों का अपमान करने, आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग करने, आपराधिक साजिश और डराने-धमकाने संबंधी IPC की विभिन्न धाराओं के तहत कई आरोप लगाए गए हैं. उनके खिलाफ महिलाओं का अभद्र तरीके से चित्रण करने और सूचना प्रौद्योगिकी कानून की धारा 67 ए के तहत भी केस दर्ज किया गया है. 

ये भी पढ़ें- जज कर्णन की जमानत अर्जी पर जल्द सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इंकार

पहले भी गिरफ्तार हो चुके हैं जस्टिस CS Karnan

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सी एस कर्णन (CS Karnan) को अदालत की अवमानना का दोषी ठहराया था. इसके साथ ही उन्हें छह महीने कैद की सजा सुनाई थी. इसके बाद कर्णन गिरफ्तारी से बचने के लिए लापता हो गए. कई हफ्तों के बाद तमिलनाडु पुलिस ने जून 2017 में कर्णन को कोयंबटूर से गिरफ्तार कर लिया था. जहां वे जेल में रहने के दौरान ही बिना कोई रिटायरमेंट बैनेफिट पाए सेवा से रिटायर हो गए थे. (इनपुट भाषा)

LIVE TV

Read Entire Article