Delhi Weather: ठंड ने तोड़ा 71 वर्षों का रिकॉर्ड, नवंबर रहा सबसे ठंडा; ये रही वजह

1 month ago 21
मौसम

पिछले 71 वर्षों में पहली बार, दिल्ली में नवंबर महीने के दौरान न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. मौसम विभाग (IMD) के अनुसार इस बार सर्दी (Winter) ज्यादा रहेगी.  

नई दिल्ली: इस बार दिल्ली की सर्दी रितॉर्ड तोड़ रही है. नवंबर का महीना पिछले 71 वर्षों में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लिए सबसे ठंडा रहा. नवंबर में इस तरह की भीषण ठंड का कारण ला नीना (La Nina) और पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) जैसे वैश्विक कारकों का अभाव माना जा रहा है. इसके अलावा, सितंबर में बारिश न होना भी इसका प्रमुख कारण है.

अक्टूबर भी रहा सबसे ठंडा

पिछले 71 वर्षों में पहली बार, दिल्ली में नवंबर महीने में न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. इससे पहले नवंबर महीने के दौरान मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने दिल्ली में न्यूनतम तापमान 12.9 डिग्री के आसपास दर्ज किया गया था. इसबार न केवल नवंबर के महीने में, बल्कि अक्टूबर में भी कम तापमान दर्ज किया गया था. अक्टूबर में ठंड ने पिछले 58 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया. इस साल अक्टूबर में न्यूनतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. अक्टूबर में ऐसी कड़ाके की ठंड वर्ष 1962 में दर्ज की गई थी जब तापमान 16.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

और बढ़ेगी ठंड

आगे यह स्थिति और भी खराब हो सकती है यानी इस बार दिल्ली की सर्दी का सितम हर बार से ज्यादा रहेगा. मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार (30 नवंबर) दिल्ली में नवंबर का सबसे ठंडा दिन रहा. सोमवार को न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया. मौसम विभाग के महानिदेशक एम महापात्रा का कहना है कि ला नीना जैसे वैश्विक कारकों ने पहले भी अपना प्रभाव महसूस कराया है. वैश्विक कारकों के साथ स्थानीय और क्षेत्रीय कारक भी मौसम के बदलाव की वजह है.

यह भी पढ़ें: Farmers Protest: किसानों से बातचीत में सरकार ने MSP को लेकर कमेटी बनाने का दिया प्रस्ताव

ये है वजह

उन्होंने आगे कहा कि सितंबर के महीने में बारिश नहीं होने से भी नवंबर में दिल्ली में इतनी ठंड पड़ रही है. बारिश न होने के कारण, वातावरण शुष्क है और नमी की कमी है. इसी वजह से बादल साफ हैं और जब बादल साफ होते हैं, तो ठंड का प्रभाव ज्यादा रहता है.

LIVE TV

Read Entire Article