Traffic Rule तोड़े तो बढ़ जाएगा Insurance Premium, जानिए Irdai committee की नई सिफारिश

1 month ago 20

नई दिल्ली: अब ट्रैफिक नियमों को तोड़ने पर सिर्फ चालान देना ही काफी नहीं होगा. इसका खामियाजा आपको अपने वाहन का बीमा कराने के दौरान भुगतना पड़ सकता हैं. दरअसल भारत सरकार की बीमा नियामक संस्थान यानी IRDAI के नए प्रपोजल के मुताबिक अगर आप ट्रैफिक रूल तोड़ते है तो आपके वाहन का बीमा प्रीमियम बढ़ जाएगा. हर ट्रैफिक वॉयलेशन के लिए 'वॉयलेशन प्वाइंट' (Violation Points) दिया जाएगा. जितना बड़ा वॉयलेशन उतने ज्यादा वॉयलेशन प्वाइंट. वहीं ये सिफारिश भी की गई है कि ऐसा सिस्टम बने जिसमें वॉयलेशन प्वाइंट कैलकुलेट किया जाएगा. 

फोर्ड इंडिया के सर्वे में दिखी बदलाव की जरूरत

आखिर सड़क नियमों का पालन न करने में किसका नुक्सान है ? क्यों लोगों के लिए हेलमेट और सीट बेल्ट लगाना इतना मुश्किल है ? हाल ही में हुए एक सर्वे में देश के बड़े शहरों में ट्रैफिक नियमों को तोड़ने को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. दरअसल Traffic Voilations में दिल्ली वालों का नाम सबसे ऊपर हैं. लगातार बढ़ रहे ट्रैफिक उल्लंघन के मामलों को देखते हुए भारत सरकार की लाइसेंस इंस्योरेंस रेगुलेटरी बॉडी यानी IRDA ने वाहनों की बीमा पॉलिसी के साथ 'ट्रैफिक वॉयलेशन प्रीमियम'  (Traffic Violation Premium) जोड़ने का प्रपोजल दिया है. 

ये भी पढ़ें- Mobile Recharge- हर महीने 125 रुपये से भी कम का खर्च, साल भर नहीं कराना पड़ेगा Recharge

लोगों को वाहन चलाने का लाइसेंस 18 साल की उम्र के बाद ही मिलता है. यानी ये तो साफ है की सड़क पर गाड़ी चलाने वाले लोग बच्चे नहीं हैं. फिर ट्रैफिक नियमों को समझना आखिर लोगों के लिए इतना मुश्किल क्यों हैं? हाल ही में हुए 'फोर्ड इंडिया' के सर्वे में ये पाया गया की भारत के सारे बड़े शहरों में से दिल्ली में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों की तादाद सबसे ज्यादा है. लोगों की ये ही छोटी-छोटी सी लापरवाहियां सड़क पर होने वाले बड़े हादसों का कारण बन सकती है. तो क्या कुछ है इस प्रस्ताव में आइए बताते हैं.

इस तरह लागू हो सकता है नया नियम 

उदाहरण के लिए अगर आपके पास एक 2 व्हीलर है. आपने उसका बीमा करवाया जिसके लिए आपको 1000 रू देने पड़े. भविष्य में अगर आप ट्रैफिक के नियमों की अनदेखी करते है जैसे रेड लाइट जंप (red light jump) हो या फिर ओवरस्पीडिंग जैसा कोई भी काम तो हर ऐसे जुर्म के लिए लगने वाले फाइन से संबंधित अलग-अलग प्वाइंट्स जुड़ेंगे. ट्रैफिक लाइट्स और सड़कों पर लगे कैमरे में आपकी कार या बाइक की हर गतिविधि रिकॉर्ड होती है.

ये भी पढ़ें- सुरक्षा बलों की सख्ती से आतंकियों ने बदला पैंतरा, नए ऐप से कर रहे युवाओं की भर्ती 

ये डिटेल जनरल बीमा कंपनियों के पास जाएंगी. इसके बाद जब भी आपका बीमा रिन्यू कराने का नंबर आएगा तब जाकर आपके बीमा प्रीमियम की रकम तय होगी. वहीं बीमा कंपनी को ये भी पता चल जाएगा कि साल भर में आपने कितनी बार और कौन-कौन से ट्रैफिक रूल तोड़े हैं.

नियम तोड़ने पर शर्मिंदगी नहीं बहानेबाजी

दिल्ली की सड़को पर ट्रैफिक नियमों को तोड़ते हुए लोग आपको अकसर मिल जाएंगे..बहरहाल अब ट्रैफिक नियम तोडना आपको भारी पड़ सकता है.लगातार बढ़ रहे ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन को देखते हुए भारत सरकार की लाइसेंस बीमा रेगुलेटरी बॉडी यानी 'इरडा' ने वाहन की बीमा पॉलिसी के साथ 'ट्रैफिक वॉयलेशन प्रीमियम' जोड़ने का प्रपोजल दिया है. आज जब हमने लोगो से पूछा कि की वो नियमों का उल्लंघन क्यों कर रहे हैं. तो लोगों ने बड़े ही अजीबोगरीब जवाब दिए.

ये भी पढ़ें- 10 हजार सस्ते Flats बनाएगी Greater Noida Authority, जल्द होगा काम शुरू

देश में करोड़ों लोग बड़े ध्यान से ट्रैफिक नियमों का पालना करते हैं. वहीं चंद लोगों की लापरवाही असमय कुछ लोगों की मौत की वजह बन जाती है. ऐसे में अगर आप अपनी कार या बाइक का इंस्योरेंस प्रीमियम बढ़ने से रोकना चाहते हैं तो बिना कैमरे वाली रेड लाइट्स पर भी ट्रैफिक नियम तोड़ने की आदत अब बदलनी पड़ेगी.  

LIVE TV

 

Read Entire Article